युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। पिछले दिनों शासन के आदेश पर गाजियाबाद से स्थानांतरित होकर गए ३१ निरीक्षकों के तबादले की वजह से जिले के लगभग एक दर्जन थाने एसएचओ विहीन हो गये थे। बीती रात एसएसपी पवन कुमार ने ११ थानों में से ७ कोतवालियों में नये कोतवाल तैनात कर दिए जबकि घंटाघर कोतवाली के कोतवाल अमित सिंह को नन्दग्राम थाने का एसएचओ बना दिया। इसी क्रम में कप्तान ने क्राइम ब्रांच में चल रहे अमित कुमार खारी को नगर कोतवाल, स्वॉट टीम प्रभारी सचिन मलिक को कौशांबी, गैर जनपद से आये योगेंंद्र मलिक को विजयनगर थाने का एसएचओ जबकि विजयनगर थाने के एसएचओ रहे महावीर सिंह चौहान को टीला मोड़ थाने का एसएचओ बनाया गया है। इसके अलावा गैर जनपद से आये मनीष बिष्टï को इंदिरापुरम, रविंद्र चंद्र पंत को ट्रोनिका सिटी और योगेंद्र सिंह को मसूरी थाने का एसएचओ बनाया है। बता दें कि कई कारणों के चलते कविनगर, लिंक रोड, खोड़ा, सिहानी गेट व लोनी कोतवाली अभी भी एसएचओ विहीन रह गईं। सूत्रों का कहना है कि जल्द ही इन कोतवालियों को भी कोतवाल मिल जायेंगे। उल्लेखनीय है कि कप्तान द्वारा की गई कोतवाली की तैनाती के बाद दैनिक युग करवट की वह खबर भी पूरी तरह से सत्य निकली जिसमें हमने यह उल्लेख किया था कि गैर जनपद से आने वाले निरीक्षकों में से केवल ६ इंस्पेक्टरों को ही रिक्त चल रहे थानों की कुर्सी मिलेगी और शेष बचे थानों पर जनपद में तैनात निरीक्षकों की तैनाती होगी। सूत्रों की मानें तो यह लग रहा है कि जिन थानों में अभी एसएचओ तैनात नहीं हुए हैं, उनमें से दो थानों में अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े निरीक्षकों की तैनाती हो सकती है।