लोकसभा स्पीकर के लिए चुनाव कल
नई दिल्ली। लोकसभा स्पीकर पद के लिए सत्ताधारी एनडीए और विपक्षी गठबंधन के बीच सहमति नहीं बन पाई है और इसके साथ ही यह तय हो गया है कि कल २६ जून को स्पीकर पद को लेकर चुनाव होगा। भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए ने ओम बिरला तो के सुरेश को कांगे्रस के विपक्षी गठबंधन की तरफ से लोकसभा अध्यक्ष पद के उम्मीदवार चुना है। लोकसभा स्पीकर पद के लिए देश में पहली बार चुनाव होगा। अब तक सत्ता पक्ष का ही स्पीकर चुना जाता रहा है। एनडीए की तरफ से ओम बिरला और विपक्षी गठबंधन की तरफ से के सुरेश ने आज स्पीकर पद के लिए नामांकन भर दिया है। स्पीकर पद के लिए लोकसभा में कल 26 जून को चुनाव होगा। आजादी के बाद से अब तक लोकसभा में यह परम्परा रही है कि स्पीकर का चयन सर्वसम्मति से किया जाता रहा है। लेकिन इस बार सत्ता और विपक्ष में सहमति नहीं बन पाई। विपक्षी गठबंधन और खासकर कांगे्रस डिप्टी स्पीकर का पद मांग रहे थे। इस मामले को लेकर भाजपा और कांगे्रस नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। मतदान कल सुबह ११ बजे होगा।
लोकसभा के नंबरगेम की बात करें तो इस बार तस्वीर 2014 और 2019 के मुकाबले अलग है। एनडीए की अगुवाई कर रही बीजेपी 240 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है, लेकिन दो चुनाव बाद पार्टी पूर्ण बहुमत के लिए जरूरी 272 के जादुई आकंड़े से पीछे रह गई। लोकसभा में एनडीए का संख्याबल 293 है। वहीं, विपक्ष की बात करें तो कांग्रेस को 99 सीटों पर जीत मिली थी, लेकिन राहुल गांधी दो सीट से जीते थे इस लिहाज से सांसदों की संख्या 98 थी। राहुल ने वायनाड सीट छोड़ दी है। ऐसे में पार्टी की सीटें भी अब 98 हो गई हैं। कांग्रेस की अगुवाई वाले इंडिया ब्लॉक के 233 सांसद हैं। सात निर्दलीय समेत 16 अन्य भी चुनाव जीतकर संसद पहुंचे हैं।