युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। शासन ने जैसे ही लोनी थाना क्षेत्र के गांव बादशाहपुर सिरोली निवासी पवन उर्फ कल्लू पुत्र संतराम के ऊपर एक लाख का इनाम घोषित किया, वैसे ही वह यूपी व दिल्ली समेत एसटीएफ के रडार पर भी आ गया। सूत्रों की मानें तो एक लाख का इनाम घोषित होते ही एसटीएफ ने भी जैनी व उसके बड़े भाई की हत्या की वारदातों में वांछित पवन उर्फ कल्लू की घेराबंदी शुरू कर दी है। बता दें कि डबल मर्डर में वांछित चले रहे कुख्यात बदमाश पवन उर्फ कल्लू के ऊपर एडीजी मेरठ जोन राजीव सब्बरवाल ने एक लाख का पुरुस्कार घोषित कर दिया। अब जनपद विशेषकर लोनी थाना पुलिस के अलावा एसटीएफ भी हर संभव तरीके से पवन उर्फ कल्लू को उसके असली मुकाम तक पहुंचाने की फिराक में लग गई है। अब देखना यह है कि पुलिस पवन उर्फ कल्लू को अपना निशाना कब तक बना पायेगी।