युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। देश के नए उपराष्ट्रपति के निर्वाचन के लिए आज सुबह से मतदान शुरू हो गया है। इसमें मुकाबला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ और विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के बीच है।
आंकड़ों के लिहाज से देखा जाए तो पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल धनखड़ की जीत सुनिश्चित लग रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मत का इस्तेमाल किया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पीयूष गोयल ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ संसद में उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट डाला।मतों की गिनती आज ही की जाएगी। मौजूदा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। ऐसे में 11 अगस्त को अगले उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति चुनाव से खुद को दूर रखा है।
टीएमसी ने मार्गरेट अल्वा के नाम की घोषणा से पहले सहमति नहीं बनाने की कोशिशों का हवाला देते हुए मतदान प्रक्रिया से दूर रहने का ऐलान किया है। टीआरएस, आम आदमी पार्टी, एआईएमआईएम और झारखंड मुक्ति मोर्चा ने मार्गरेट अल्वा का समर्थन करने का ऐलान किया है।