नासिक। महाराष्ट्र के नासिक में भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर पर पत्थरबाजी का मामला सामने आया है। पत्थरबाजी का आरोप शिवसेना कार्यकर्ताओं पर लगा है। केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता नारायण राणे के बयान पर विवाद होने के बाद ये घटना सामने आई है। सिर्फ नासिक ही नहीं बल्कि अब मुंबई, अमरावती, रत्नागिरी समेत कई शहरों में नारायण राणे के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है। उधर, नासिक पुलिस नारायण राणे की गिरफ्तारी के लिए निकल गई है। मुंबई में भी शिवसैनिक सड़कों पर उतर आए हैं और राणे की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। एक तरफ नारायण राणे के खिलाफ शिवसेवा कार्यकर्ताओं का गुस्सा दिख रहा है, तो उनके बेटे और विधायक नीतीश राणे ने महाराष्ट्र पुलिस पर आरोप लगाया है। नीतीश राणे का कहना है कि रत्नागिरी के पास उन्हें रोका गया, पुलिस ने उन्हें पीटने की धमकी दी है।
मुख्यमंत्री को लेकर दिए गए बयान पर बवाल
दरअसल, नारायण राणे ने हाल ही में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर एक बयान दिया था। इस बयान में उन्होंने ठाकरे की आलोचना करने के साथ ही उन्हें ‘थप्पड़Ó तक मारने की बात कह डाली थी। राणे के इस बयान के बाद उन पर एफआईआर दर्ज की गई है। जिसके बाद आज नासिक पुलिस राणे की गिरफ्तारी के लिए रत्नागिरी जा रही है।