प्रमुुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। ई-बसों में अब डब्ल्यूटी नहीं होगी। इसके लिए एक टीम का गठन किया गया है। कर्मचारियों की यह टीम ई-बसों में बिना टिकट सवारियों की जांच की जाएगी। प्रशासन के पास इस तरह की सूचना है कि सुबह और सायं पीक ऑवर्स में बड़ी संख्या में बिना टिकट के ही सवारियां चलती है। बस में भीड़ होने के कारण कंडेक्टर इतनी जल्दी सब का टिकट नहीं बना पाता है उससे पहले स्टॉप आ जाता है। काफी ऐसे लोग है जो अगले स्टॉप पर उतर जाते है। इससे ई-बस संचालन करने वाली सरकार को नुकसान होता है। इन बसों के संचालन का कार्य प्राइवेट कंपनी के पास है। यहीं कारण है कि अब रोडवेज प्रशासन इस कोशिश में लगा है कि ई-बसों का बिना डब्लयूटी के ही संचालन होगा तो इससे सरकार को अधिक राजस्व मिलेगा। इसी के चलते रोडवेज ने इसके लिए नया प्लान किया है। अभी तक रोडवेज की बसों की जांच करने वाली टीम ई-बसों की जांच नहीं करती थी। मगर अब ऐसा नहीं होगा। रोडवेज का प्लान है कि जल्दी ही वह इस तरह का प्लान तैयार करेगा कि रोडवेज की जांच टीम को ई-बस में बिना टिकट के चल रही सवारियों की जांच करने का भी अधिकार दिया जाएगा।