युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। तीन मई को ईद-उल-फितर के साथ ही परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया पर्व भी है। ऐसे में सभी पर्वों को शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराना पुलिस और प्रशासन के लिए भी कम चुनौतीपूर्ण नहीं है। माहौल साम्प्रदायिक न हो इसके लिए डीएम आरके सिंह ने सभी क्षेत्रों में मजिस्ट्रेट तैनात किए हैं। जो अपने-अपने क्षेत्र में पुलिस क्षेत्राधिकारियों के साथ मिलकर शांति कायम रखने का काम करेंगे।
बता दें कि मुस्लिम समुदाय द्वारा कल ईद का पर्व मनाया जाएगा। ईद की नमाज भी मस्जिदों में सुबह छह से नौ बजे अदा की जाएगी। तीन मई को ही परशुराम जयंती होगी जिसमें विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा यात्राएं, पूजन और भंडारों का आयोजन किया जाता है। अक्षय तृतीया पर शहर में बड़ी संख्या में शादी समारोह भी आयोजित होने हैं। एक साथ दो समुदाय के पर्व होने से पुलिस प्रशासन भी पूरी तरह से सर्तक है। अधिकारी लगातार पीस समितियों की बैठक कर लोगों से शांति व्यवस्था कायम रखने की अपील कर रह हैं। इसके अलावा मजिस्टे्रट ड्यूटी भी लगाई गई है।
कोतवाली, विजयनगर व कविनगर थाना क्षेत्र में सिटी मजिस्ट्रेट गंभीर सिंह, मसूरी, मुरादनगर, मधुबन बापुधाम थाना क्षेत्र में एसडीएम सदर विनय कुमार सिंह, लोनी क्षेत्र में एसडीएम लोनी संतोष राय, मोदीनगर क्षेत्र में एसडीएम शुभांगी शुक्ला, साहिबाबाद, लिंक रोड, टीला मोड़ थाना क्षेत्र में एसीएम चंद्रेश कुमार सिंह, इंदिरापुरम, खोड़ा, कौशाम्बी थाना क्षेत्र में एसीएम निखिल चक्रवती, सिहानी गेट, नंदग्राम थाना क्षेत्र में एसीएम शाल्वी अग्रवाल को तैनात किया गया है। इसके अलावा क्षेत्रवार प्रभारी अधिकारी भी तैनात किए गए हैं।
एडीएम प्रशासन ऋतु सुहास और एसपी देहात डॉ. ईरज राजा को मोदीनगर का प्रभारी बनाया गया है। एडीएम सिटी बिपिन कुमार व एसपी सिटी द्वितीय को शहरी क्षेत्र का प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। एडीएम वित्त एवं राजस्व विवेक श्रीवास्तव व एसपी सिटी प्रथम को मुरादनगर क्षेत्र और एडीएम एलए व एसपी सिटी थर्ड को लोनी क्षेत्र में शांति एवं कानून व्यवस्था के लिए प्रभारी बनाया गया है।
डीएम आर के सिंह ने एडीएम प्रशासन ऋतु सुहास को स्थानीय निकाय, सभी नगर पालिकाओं, नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारियों से समन्वय बनाकर सफाई व्यवस्था भी दुरूस्त कराने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा डीएम ने नगरायुक्त को नगर निगम क्षेत्र में आने वाले सभी धार्मिक स्थलों पर साफ-सफाई, पेयजल, चूने आदि की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए हैं।
सभी एसडीएम को भी निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्र केे संवदेनशील स्थानों पर तहसीलदार, नायब तहसीलदारों की तैनाती करें ताकि अगर कहीं कोई विवाद की स्थिति उत्पन्न हो तो, तत्काल वहां पहुंचकर उसे शांत कराया जा सके। जिला पंचायत राज अधिकारी को ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई कराने के निर्देश दिए हैं। डीएम आरके सिंह ने आमजन से भी शांति और सौहार्दपूर्ण तरीके से पर्व मनाने की अपील की है।