नोएडा (युग करवट)। अवैध रूप से भारत में रह रहे चीनी नागरिकों गिरफ्तारी में सबसे महत्वपूर्ण बात यह सामने आई है कि चीन के नागरिक यहां के स्थित विभिन्न चीनी कंपनियों के खराब हुए मोबाइल फोन को खरीद कर उनके अंदर स्थित कीमती चिप आदि को निकाल कर अवैध रूप से चाइना भेजते हैं। जिसके माध्यम से यहां के नागरिकों का डाटा वहां पहुंच जाता है। इसके अलावा चाइना स्थित कंपनियां उन चिपों को नए मोबाइल फोन में लगाकर वापस भारत भेज देती है। जांच के दौरान एजेंसियों को पता चला है कि भारत और चीन के बीच अवैध रूप से इलेक्ट्रॉनिक्स स्क्रेप का बड़ा कारोबार चल रहा है। ये लोग लैपटॉप, एलईडी, टीवी आदि किसी की चिप अवैध तरीके से चीन भेज रहे हैं। यह कारोबार अरबो रुपए का है जिससे भारत सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व का घाटा हो रहा है। बताया जाता है कि जांच के दौरान चीनी नागरिकों के हवाला कनेक्शन भी सामने आया है।