सर्वोदय अस्पताल में एकसाथ तीन मरीजों की हुई मौत
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। इलाज में लापरवाही बरते जाने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने डायमंड फ्लाईओवर स्थित न्यू सर्वोदय अस्पताल में जमकर हंगामा किया। परिजनों का आरोप है कि उनके मरीजों के साथ स्टाफ ने लापरवाही बरती है जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई। अस्पताल में रात से लेकर सुबह आठ बजे तक तीन लोगों की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया।
पीडि़त हरिकिशन ने बताया कि दस मई को उन्होंने अपने मरीज सतीश कुमार शर्मा को सर्वोदय अस्पताल में भर्ती किया था, तब तक सब कुछ ठीक था और रात के समय भी ऑक्सीजन लेवल सही थी। लेकिन सुबह उनके मरीज को सांस लेने में दिक्कत हुई। वार्ड स्टाफ को इस बारे में बताया तो उन्होंने उनके मरीज को वेंटीलेटर पर शिफ्ट कर दिया लेकिन तब तक मरीज की मौत हो चुकी थी। वहीं दूसरे मरीज मोना के परिजनों ने बताया कि उनके मरीज का स्वास्थ्य भी ठीक हो रहा था। उन्होंने बताया कि सुबह आठ बजे जब वह अपने मरीज से मिलने पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि उनके मरीज की मौत हो गई है। अस्पताल में एकसाथ तीन मरीजों की मौत पर परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। अस्पताल के सीएमएस डॉ.मनोज जैन ने बताया कि तीनों ही मरीज पोस्ट कोविड थे और काफी गंभीर स्थिति में थे और उनके परिजनों को पहले ही उनकी स्थिति के बारे में अवगत करा दिया गया था। मल्टी आर्गेन फल्योर के कारण मरीजों की डेथ हुई थी।
कोविड के कारण शरीर में इंफ्ेक्शन बहुत था। डॉ.मनोज ने ऑक्सीजन की कमी और इलाज में लापरवाही से स्पष्टï इंकार करते हुए कहा कि अस्पताल में ऑक्सीजन पर और भी मरीज भर्ती हैं। उनका कहना है कि अगर हमारी लापरवाही होती तो अन्य मरीज भी नहीं बच पाते। उन्होंने इलाज में किसी भी प्रकार की लापरवाही से इंकार किया है।