युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाओं का हाल जानने के लिए प्रदेश के स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने आज जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान इमरजेंसी वार्ड के एक-एक बिस्तर पर एक साथ दो मरीजों का इलाज होता देख स्वास्थ्य मंत्री भड़क गए और तत्काल अतिरिक्त वार्ड की व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए।
इस दौरान स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने अस्पताल में महिला वार्ड, चाइल्ड वार्ड, पुरुष वार्ड व इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण किया और भर्ती मरीजों से स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने मरीजों से अस्पताल से मिलने वाली दवाएं, खाने व डॉक्टरों द्वारा निर्धारित समय पर देखे जाने की भी जानकारी ली। हालांकि, इस दौरान मरीजों ने स्वास्थ्य मंत्री से कोई शिकायत नहीं की। लेकिन इमरजेंसी वार्ड में बिस्तरों पर एक साथ दो मरीजों का इलाज होते देख राज्यमंत्री नाराज दिखाई दिए। उन्होंने अस्पताल के सीएमएस डॉ.अनुराग भार्गव को तत्काल प्रभाव से अतिरिक्त वार्ड लगाए जाने के निर्देश दिए। इस दौरान स्वास्थ्य राज्यंमत्री अतुल गर्ग ने कहा कि मरीजों से खुद बात की लेकिन किसी ने भी कोई असुविधा नहीं बताई। एक वार्ड में पंखा खराब पाया गया जिसे २४ घंटे में बदला जाएगा।
उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि सरकारी अस्पतालों में मरीजों को सुविधाएं आसानी से उपलब्ध हो सकें। इन अस्पतालों में अधिकतर गरीब तबके के लोग आते हैं, ऐसे में सरकार उनकी हर संभव मदद के लिए स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार लाने का प्रयास कर रही है जिसमें काफी हद तक सफल हुई है।
निरीक्षण के दौरान सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर, राज्यमंत्री प्रतिनिधि राजेंद्र मित्तल मेंदी वाले, सीएमएस डॉ.अनुराग भार्गव, वरिष्ठ फिजीशियन डॉ.आरपी सिंह, वरिष्ठ फार्मासिस्ट एसपी वर्मा व नीरज गोयल आदि मौजूद रहे।