युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। उत्तराखंड के उधमसिंह नगर के कुंडा थाना क्षेत्र में हुई मुठभेड़ के बाद से वहां का माहौल गर्म है। मिली जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड पुलिस ने यूपी पुलिस के खिलाफ हत्या समेत 6 धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। यूपी पुलिस की गोलीबारी में ब्लॉक प्रमुख की पत्नी की मौत के बाद भारी संख्या में लोगों ने नेशनल हाइवे जाम कर दिया। बाद में उत्तराखंड पुलिस की ओर से समझाने के बाद ही स्थानीय लोग वहां से हटे। यूपी पुलिस 50 हजार के इनामी खनन माफिया जफर का पीछा करते हुए उधमसिंह नगर पहुंची थी। वहां ब्लॉक प्रमुख के परिवार से नोक-झोंक के बाद फायरिंग शुरू हो गई। उधमसिंह नगर के कुंडा थाना क्षेत्र में हुई घटना के बाद से वहां के स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा देखा गया। इसके बाद उत्तराखंड पुलिस ने यूपी पुलिस के खिलाफ हत्या सहित 6 धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। डीआईजी कुमाऊं मंडल नीलेश आनंद भरने ने बताया की तहरीर के आधार पर 12 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, बलवा, षडय़ंत्र आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही यूपी पुलिस कर्मी उत्तराखंड पुलिस अभिरक्षा से भागे हैं और कुंडा थाने की पुलिस से भी यूपी पुलिस के कर्मचारियों ने बदतमीजी की है। हर पहलू पर जांच की जा रही हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम को खबर मिली थी कि 50 हजार का इनामी खनन माफिया जफर उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले के ब्लॉक प्रमुख के घर में छिपा है। ब्लॉक प्रमुख गुरताज भुल्लर के घर के सामने पहुंचते ही फायरिंग शुरू हो गई। इस फायरिंग में ब्लॉक प्रमुख की पत्नी की मौत हो गई वहीं यूपी पुलिस के भी 5 जवान भी घायल हुए हैं।