नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। २५ दिसंबर को शास्त्रीनगर के महेन्द्रा एन्क्लेव में आरएसएस के पंथ संचालन के दौरान हुए विवाद का पांच दिन बाद पटाक्षेप हो गया है। २५ दिसंबर को पथ संचालन के दौरान रालोद नेता अरविंद तेवतिया के बेटे का विवाद स्कूटी निकालने को लेकर हो गया था।
मामला इतना बढ़ गया कि कविनगर थाने में रालोद व भाजपा नेताओं के बीच कई घंटे तक विवाद होता रहा। इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई तो वहीं रालोद नेता सहित कई लोगों को पुलिस ने इस मामले में जेल भेज दिया। आज दोनों पक्षों की ओर से आरएसएस के शास्त्रीनगर स्थित कार्यालय पर प्रेसवार्ता आयोजित की गई जिसमें भाजपा के वरिष्ठ नेता ब्रजपाल तेवतिया, मुरादनगर विधायक अजीत पाल त्यागी, भाजपा नेता मंयक गोयल, पंथ संचालन के संयोजक गिरीश गर्ग, भंवर सिंह और दूसरे पक्ष से रालोद नेता अरविंद तेवतिया के पिता कृष्णपाल तेवतिया, चाचा सुरेश पाल मौजूद रहे। दोनों पक्षों की आपसी सहमति से दर्ज कराई गई रिपोर्ट भी वापस ली जा रही है।
अरविंद तेवतिया के पिता कृष्णपाल तेवतिया ने कहा कि इस मामले को लेकर जो राजनीति की जा रही है वह ठीक नहीं है। यह बच्चों का विवाद था, कोई राजनीतिक मामला नहीं है। दोनों पक्षों की ओर से समझौता कर विवाद को पूरी तरह से समाप्त कर दिया गया है। इस दौरान विपिन त्यागी, सचिन सोनी आदि मौजूद रहे।