युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने इस साल लगातार पांचवीं बार रेपो रेट में बढ़ोतरी कर दिया है। आरबीआई ने रेपो रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है। आरबीआई के मुताबिक अब रेपो रेट 5.90 प्रतिशत से बढक़र 6.25 प्रतिशत हो जाएगा। इस फैसले के साथ ही अब होम लोन समेत सभी तरह के लोन महंगे हो जाएंगे। एमपीसी बैठक के बाद आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज नीतिगत दरें बढ़ाए जाने का ऐलान किया। देश के आम आदमी को एक बार फिर जोर का झटका लगा है। भारतीय रिजर्व बैंक की मॉनिटरी पॉलिसी के बैठक के बाद गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो दरों में इस साल लगातार पांचवीं बढ़ोतरी का ऐलान किया है। इसके बाद होम लोन-ऑटो लोन समेत सभी तरह का कर्ज महंगा हो जाएगा और लोगों को ज्यादा ईएमआई भरनी होगी। इसके साथ ही आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए जीडीपी ग्रोथ रेट 6.8 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। इससे पहले केंद्रीय बैंक ने 7 फीसदी का अनुमान जताया था। उन्होंने कहा कि ग्लोबल चुनौतियां के बावजूद भारत की ग्रोथ रेट संतुलित है।