प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। बीती रात लगभग पौने दो बजे सिहानी गेट थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिब्बनपुरा मौहल्ले के कल्पना नगर में मकान संख्या २७६ में एक टेंट हाउस के गोदाम में भयंकर आग लग गई। सूचना मिलते ही पुलिस व फायर ब्रिगेड की कई गाडिय़ां मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने में जुट गई। फायर ब्रिगेड ने घंटों तक मशक्कत करके किसी प्रकार आग पर काबू पाया। साथ ही पुलिस के सहयोग से उस तीन मंजिला भवन में फंसे १३ लोगों को भी सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। दुर्भाग्यवश इस घटना में इमारत के प्रथम तल पर सो रहे खुर्जा बुलंदशहर निवासी ३० वर्षीय पंकज कुमार, उनकी २६ वर्षीय पत्नी कविता व १ साल की पुत्री कृतिका की दर्दनाक मौत हो गई। इस संदर्भ में सीएफओ सुनिल कुमार सिंह ने बताया कि जिस टैंट हाउस के गोदाम में आग लगी वह सुनिल दत्त का है। आग कैसे लगी इसकी जांच शुरू कर दी गई है। श्री सिंह ने बताया कि जिस जगह गोदाम बनाया गया था, वहां फायर ब्रिगेड की गाड़ी नहीं जा सकती थी। इसीलिये फायर ब्रिगेड कर्मियों ने कई हौज पाइप जोडक़र उसे आग लगने वाले मकान तक पहुंचाया और फिर आग पर काबू पाने की कवायद शुरू की। श्री सिंह ने बताया कि प्राथमिक जांच के दौरान जो एक महत्वपूर्ण बात सामने आई है उससे पता चला है कि टैंट हाउस के संचालक ने न तो अग्निरोधक प्रणाली नहीं लगवाई हुई थी और न ही फायर ब्रिगेड से कोई एनओसी ले रखी थी। श्री सिंह ने बताया कि उन्होंने आग लगने के कारणों की जांच शुरू कर दी है। बता दें कि पिछले कुछ समय में लगी आग की वजह से कई लोग भेंट चढ़े हैं, उससे दमकल विभाग की लापरवाही भी उजागर हो गई।