गाजियाबाद। तीनों कृषि कानून वापस लिए जाने की घोषणा के बाद आंदोलन का नेतृत्व कर रहे किसान नेताओं की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई है। संयुक्त किसान मोर्चा के प्रमुख किसान नेता डॉ.दर्शनपाल सिंह ने कहा कि अभी किसान आंदोलन को खत्म ना समझा जाए। एमएसपी पर कानून, बिजली संशोधन विधेयक जैसी प्रमुख मांगें अभी भी बाकी हैं। इसलिए किसान आंदोलन जैसा चल रहा है, चलता रहेगा। अभी किसानों की एमएसपी पर अहम मांग बाकी है। दर्शनपाल सिंह ने कहा कि किसानों का आंदोलन ना केवल तीनों काले कानूनों को निरस्त करने के लिए है बल्कि सभी कृषि उत्पादों और सभी किसानों के लिए लाभकारी मूल्य की वैधानिक गारंटी है।