– गाजीपुर बॉर्डर पर हवन आयोजित 14 से हटेंगे टेंट: राकेश टिकैत –
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। किसानों की मांगें पूरा करने के सरकार के वादे के बाद एक साल से अधिक समय से जारी किसान आंदोलन अब खत्म हो गया है। संयुक्त किसान मोर्चा के आंदोलन खत्म करने के ऐलान के बाद टिकरी और सिंघु बॉर्डर से किसानों की घर वापसी शुरू हो गई है। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के धरना वापस लेने के फैसले की जानकारी मिलने के बाद पिछले एक साल से टिकरी सीमा पर डेरा डाले सैकड़ों किसान शुक्रवार को अपने घर के लिए रवाना हो गए। हालांकि, संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐलान किया है कि वे 11 दिसंबर को जश्न मनाने के बाद घर वापस जाएंगे।
वहीं, गाजीपुर बॉर्डर पर आज मृतक किसानों को श्रद्घांजलि देने के लिए विशेष सभा का आयोजन किया गया। किसानों ने मृत साथियों के साथ ही हेलीकॉप्टर हादसे में मारे गए सैनिकों को श्रद्घांजलि दी। हवन का आयोजन किया गया। भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि शनिवार से किसान अपने घर चले जाएंगे। 14 तारीख से टेंट हटाए जाएंगे। वहीं, सिंघू बार्डर से किसानों का घर जाना जारी है। किसानों के पहले जत्थे में घर लौटने वाले पठानकोट, अमृतसर, तरनतारन, गुरदासपुर, होशियारपुर और फिरोजपुर जैसे दूर-दराज के स्थानों के थे, जबकि उनमें से अधिकांश ने आज सुबह (शुक्रवार) जल्दी वापस जाने के लिए अपना सामान पैक किया। जब मंच से आंदोलन खत्म करने का ऐलान किया गया तो मुख्य प्रदर्शन स्थल पर किसानों ने जीत का जश्न मनाया और मंच पर डांस भी किया।