युग करवट संवाददाता
मुरादनगर। सीएचसी में प्रसव के दौरान भर्ती हुई एक युवती के नवजात बच्चे को अस्पताल के अंदर से चुरा लिया गया। बच्चा चेारी होने की सूचना मिलते ही अस्पताल में हड़कंप मच गया और चोरी हुए अबोध बच्चे के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। इस घटना की सूचना मिलते ही सुराना गांव के सैंकड़ों लोग अस्पताल पहुंच गए। इसके बाद उन्होंने आज दिन निकलते ही मेरठ रोड पर जाम लगाकर जमकर प्रदर्शन किया। बच्चा चोरी होने के बाद हंगामे और मेरठ रोड पर जाम लगने की सूचना मिलते ही एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा और सीओ सदर भी मौके पर पहुंच गये।
पुलिस प्रशासन के आला अफसरों एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा घंटों तक समझाने और अफसरों द्वारा चोरी हुए बच्चे को शीघ्र बरामद करने व बच्चा चोरी करने वाले को शीघ्र गिरफ्तार करने के आश्वासन के बाद ही आक्रोशित भीड़ ने जाम खोला। इस संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि सुराना निवासी संदीप ने प्रसव वेदना से पीडि़त पत्नी मीनू को मुरादनगर स्थित सीएचसी में भर्ती करवाया था। ऑपरेशन के बाद मीनू ने शीशु को जन्म दिया। बीती रात लगभग तीन बजे किसी ने उनके शीशु को चुरा लिया। श्री राजा ने बताया कि जिस परिवार का नवजात बच्चा चोरी हुआ है, उनका कहना है कि जिस गैंग ने उनका बच्चा चुराया है, उसमें एक ऐसी औरत भी शामिल है जिसके हाथ पर चोट लगी हुई है। वह बच्चे के चोरी होने से कुछ देर पहले ही अस्पताल में देखी गई थी। श्री राजा ने बताया कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर बच्चे की बरामदगी के लिये पुलिस की कई टीम बनाई गई हैं। पुलिस ने कई संदिग्ध को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ भी की है। उधर बीडीसी सदस्य केडी त्यागी ने उक्त वारदात को अस्पताल की घोर लापरवाही बताते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं सूत्रों का कहना है कि सीएमओ ने फौरी तौर पर एक स्वास्थ्यकर्मी को सस्पेंड कर दिया है।