ग्रेटर नोएडा (युग करवट)। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का अवैध यूनिपोल लगाने वालों के खिलाफ अभियान जारी है। प्राधिकरण ने एक बिल्डर सहित दो संस्थाओं पर दो-दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इन दोनों पर अवैध यूनिपोल लगाने की वजह से पहले भी जुर्माना लग चुका है।
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा क्षेत्र में अवैध यूनिपोल लगाने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया जा रहा है। प्राधिकरण हाल ही में 31 अवैध यूनिपोल को जब्त कर चुका है। अवैध यूनिपोल लगाने पर कई लोगों के खिलाफ जुर्माना लगा चुका है। सेक्टर-10 में अरिहंत एबॉड बिल्डर की साइट पर गुड होम्स, ग्रेटर प्लेस के नाम से यूनिपोल पर विज्ञापन लगा हुआ था। सूचना मिलने पर प्राधिकरण के वरिष्ठ प्रबंधक श्योदान सिंह व उनकी टीम ने मौके पर जाकर पड़ताल की। अवैध यूनिपोल मिलने पर दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया। इस बिल्डर के खिलाफ बीते साल 14 फरवरी को भी अवैध यूनिपोल लगाने पर जुर्माना लगाया गया था। इसी तरह सुपरटेक मार्ट, इको विलेज टू के पास क्रिएशन वर्ल्ड आईवीएफ का विज्ञापन अवैध यूनिपोल पर लगा था। इसके खिलाफ भी दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। दोनों संस्थाओं को जुर्माने की रकम एक सप्ताह में जमा कराने को कहा गया है। इसके बाद वसूली पत्र जारी करने की चेतावनी दी गई है।