प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। अवस्थापना निधि को शासन से रिलीज कराने को लेकर अब पार्षद तेवर दिखा रहे हैं। बीजेपी के वरिष्ठ पार्षद राजेन्द्र त्यागी का कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि कोर्ट से फैसला आएगा और यूपी सरकार अवस्थापना निधि का पैसा रिलीज करेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर हाईकोर्ट से केस सरकार के पक्ष में आता है तो इस केस को सुप्रीम कोर्ट तक लड़ा जाएगा जिससे सरकार से अवस्थापना निधि पैसा रिलीज हो सके और विकास कार्य तेजी के साथ हो सके। गाजियाबाद जिले की अवस्थापना निधि का पैसा पिछले कई वर्ष से यूपी सरकार नहीं दे रहे है। अभी तक गाजियाबाद में जीडीए, नगर निगम और आवास एवं विकास परिषद का करीब एक हजार करोड़ रुपये से अधिक का अवस्थापना निधि का पैसा सरकार नहीं दे रही है। इस मामले में बीजेपी पार्षद हिमांशु मित्तल की ओर से हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है। जनहित याचिका पर हाईकोर्ट में विवाद चल रहा है। अब इस मामले में अगले महीने की सात तारीख को सुनवाई होने जा रही है। इस मामले में जीडीए और नगर निगम की ओर से भी अपना पक्ष रखा गया है। बीजेपी पार्षद राजेन्द्र त्यागी का कहना है कि हमे उम्मीद है कि हाईकोर्ट से हमारे पक्ष में फैसला आ सकता है। अगर सरकार के पक्ष में फैसला आया तो इस प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट तक लड़ाई लड़ी जाएगी।