युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कल गाजियाबाद आगमन के मौके पर पुलिस प्रशासन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा व्यवस्था कितनी अभेद्य की है, इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि जहां सीएम की सुरक्षा व्यवस्था में हजारों पुलिसकर्मी व दर्जनों पुलिस अधिकारी तैनात रहेंगे वहीं जमीन व आसमान की सुरक्षा व्यवस्था को फुलप्रूफ बनाने के लिये उनके रूटमार्ग से लेकर सभास्थल तक पुलिस के हजारों जवान जमीन व मकानों की छतों और कई ड्रोन कैमरों के माध्यम से आकाश से हर गतिविधि पर पल-पल नजर रखेंगे। पुलिस के एक आला अफसर ने बताया कि सीएम की सुरक्षा व्यवस्था को पूरी तरह से अभेद्य बनाने के लिये आधा दर्जन से अधिक एएसपी, एक दर्जन से अधिक डीएसपी, दर्जनों निरीक्षक, सैंकड़ों उपनिरीक्षक/एचसीपी और हजारों जवानों के अलावा बम स्क्वॉड, डॉग स्क्वॉड, एलआईयू विंग और सर्विलांस विंग जैसे कई प्रकोष्ठ की टीम को तैनात किया जाएगा। इसके अलावा जिस रूट से सीएम का काफिला गुजरेगा और जिस क्षेत्र में सीएम की सभा जैसे आयोजन होंगे, उन थाना क्षेत्रों में संबंधित सर्किलों के सीओ व थानों के एसएचओ और चौकी प्रभारी छोटी से छोटी गतिविधियों पर हर पल मुस्तैदी के साथ निगरानी रखेंगे। एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल जहां शहर क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहेंगे वहीं टीएचए में एसपी सिटी द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह की पैनी नजर सीएम की सुरक्षा व्यवस्था को अभेद्य बनाने पर रहेगी।
पुलिस के अधिकारियों ने बीने सडक़ के पत्थर
सीएम के आगमन के दौरान किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना ना घटित हो, इसको लेकर पुलिस के आला अफसर कितने सजग दिखाई दे रहे हैं, इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि पुलिस जहां रूट मार्ग पर रखी हुई ईटों, पत्थरों व रोडी को हटाती नजर आई वहीं पुलिस अधिकारी सडक़ों और उसके आस-पास पड़े पत्थरों को चुगते हुए दिखाई दिए।