नोएडा (युगकरवट) कोरोना वायरस के उपचार में प्रयोग होने वाली दवाइयों, आक्सीजन की कालाबाजारी के साथ-साथ अब प्लाज्मा की भी कालाबाजारी शुरू हो गई है। गौतम बुद्ध नगर के कुछ ब्लड बैंकों तथा अस्पतालों में काम करने वाले कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित परिजनों से संपर्क कर 30 से 40 हजार रुपए लेकर प्लाज्मा उपलब्ध करा रहे हैं। सूत्रों का दावा है कि नोएडा पुलिस ने एक नामी अस्पताल में काम करने वाले 3 लोगों को प्लाज्मा की कालाबाजारी करते हुए गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि अस्पताल प्रबंधक के प्रभाव के चलते नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार प्लाज्मा का काला बाजारियो को छोड़ दिया है। पुलिस विभाग में चर्चा है कि प्लाज्मा के काला बाजार करने वालों को छोडऩे के लिए पुलिस ने मोटी रकम ली है।