युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। गत दिनों नवयुग मार्केट में अवैध खोखे लगाए गए थे। इसके बाद अब कंपनी बाग में भी लोहे के खोखे लगाए गए है। निगम के अधिकारियों को भी नहीं पता इन खोखों को यहां किसने लगाया है। सबसे पहले सिटी में वेंडिंग जोन के नाम पर गंज के पास कई दर्जन खोखे लगाए गए थे। इसी को लेकर विवाद पैदा हो गया था। इस मामले में हाईकोर्ट में केस दायर किया गया था। विवाद इतना बढ़ा कि कोर्ट ने इस प्रकरण में नगर निगम और डूडा दोनों से अलग अलग जवाब तलब किया।
दोनों ही विभागों ने यह कहकर पल्ला झाड़ दिया कि यहां हमने खोखे नहीं लगाए है। इसके बाद कोर्ट ने स्टे कर दिया। स्टे के कारण गंज में खोखा बाजार नहीं खुल सका है। वहीं दूसरी और कन्या वेदिक कॉलेज के एक पदाधिकारी से अब इसी विवाद को कोर्ट से बाहर निपटाने के लिए एक गुट वार्ता कर समझौते की कोशिश कर रहा है। सूत्रों का दावा है कि जल्दी ही समझौता होने की संभावना है। मगर इसके बाद जिस तरह से नवयुग मार्केट के बाद कंपनी बाग में खोखे रख दिए गए यह चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मामले में निगम के एक अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि कंपनी बाग पार्क में खोखे रखे है यह उनकी जानकारी में नहीं है।