युग करवट संवाददाता
मुरादनगर। सात दिन पूर्व अगवा किये गये १८ वर्षीय मुरसलीम नामक युवक की हत्या कर हत्यारों ने पहले तो उसके शव को जलाया और फिर अधजले शव को दूसरे मौहल्ले में रहने वाले फिरोज के मकान में गडï्ढ़ा खोदकर दबा दिया। उसके बाद जमीन को समतल कर उसके ऊपर सोफा भी बिछा दिया। उधर, ग्रामीणों को जब फिरोज के मकान से बदबू आती हुई दिखाई दी तो गांव में कई तरह की चर्चाऐं चलने लगीं। इसी बीच किसी ने उक्त मामले की सूचना पुलिस को दे दी। पुलिस ने जब फिरोज के मकान की तलाशी ली तो एक कमरे में रखे सोफे को हटाने पर बदबू के तेज झोंके ने पुलिसकर्मियों की भी हालत खराब कर दी। बाद मे जब गड्ढा खोदा गया तो उसमें से मुरसलीम की अधजली लाश मिली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवाकर युवक की हत्या की गुत्थी सुलझाने के प्रयास शुरू कर दिए हैं। इस वारदात के संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा का कहना है कि युवक १० जुलाई को लापता हो गया था जिसकी गुमशुदगी उसके भाई वाजिद पुत्र यामीन ने दर्ज करवाई थी। श्री राजा ने बताया कि उक्त हत्या के पीछे जर, जोरू व जमीन की वजह से उत्पन्न रंजिश हो सकती है। श्री राजा ने बताया कि मुरसलीम के अपहरण एवं हत्या का खुलासा शीघ्र कर दिया जायेगा।