युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। पुलिस की निष्क्रियता के चलते बदमाश कितने बेखौफ हो गये हैं इसका जीता जागता उदाहरण उस समय मिल गया कि जब बीती रात सिहानी गेट थाना क्षेत्र में स्थित पुराने बस स्टैंड़ पर खड़ी यूपी-१७टी ८७६३ नंबर वाली अनुबंधित बस को एक वाहन चोर ने रोडवेज अडï्ड़े के अंदर से चुरा लिया। जब वाहन चोर चुराई गई अनुबंधित बस को ठाकुरद्वारा फ्लाईओवर की और ले जा रहा था तो रोडवेज बस नवयुग मार्किट बाल्मीकि पार्क के पास अनियंत्रित होकर पलट गई। इस हादसे में वाहन चोर की भी मौत हो गई। इस वारदात की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने वाहन चोर के शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवाकर पलटी हुई बस को पुन: रोडवेज अडï्ड़े पर खड़ा करवाकर जांच शुरू कर दी। इस संदर्भ में एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि जिस वाहन चोर की मौत हुई है उसकी शिनाख्त मसूरी थाना क्षेत्र के ड़ासना कस्बे के मौहल्ला दस बिस्वा निवासी नसीम पुत्र सलीम के रूप में हुई है। श्री अग्रवाल ने बताया कि इस वारदात की रिपोर्ट अनुबंधित बस के ऑनर रजनीश पुत्र मांगेराम निवासी मुल्ताननगर मेरठ ने दर्ज करवाई है। बता दें कि बस में जीपीआरएस लगा हुआ था। जिसकी वजह से बस मालिक को उक्त वारदात की सूचना मोबाइल ऐप के माध्यम से घटना के घटित होते ही मिल गई थी।