प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। घंटाघर कोतवाली क्षेत्र में एक अधेड़ महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। एमएमजी अस्पताल में हुई महिला की मौत की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे दुधेश्वरनाथ चौकी प्रभारी मोहन सिंह ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवाकर उसकी मौत की गुत्थी सुलझाने के प्रयास शुरू कर दिये। इस संदर्भ में एसीपी अंशू जैन ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एमएमजी अस्पताल में एक ऐसी उपचाराधीन महिला की मौत हो गई है जिसे यहां लावारिस अवस्था में मरने के लिये छोड़ दिया गया था। श्रीमती जैन ने बताया कि पुलिस द्वारा की गई प्राथमिक जांच के दौरान पता चला कि जिस महिला की मौत हुई है उसका नाम सोनी (50 वर्ष) पत्नी मुकेश निवासी पक्का बाग सिकंद्राबाद है। उसे १ दिसंबर २०२२ को अंजू नामक महिला ने अस्पताल में भर्ती करवाया था। इसके बाद से मृतक महिला यहां पर लावारिस अवस्था में ही उपचाराधीन थी। महिला कौन थी, उसके परिजन कौन व कहां के रहने वाले हैं और उसकी मौत किन परिस्थितियों में हुई आदि सवालों का जवाब तलाशने के लिये पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। इस घटना ने जहां खूनी रिश्तों को तार-तार कर दिया, वहीं कलयुगी संवेदनहीनता का उदाहरण भी पेश किया।