युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। लोनी तहसील बार एसोसिएशन ने अधिवक्ता जितेन्द्र कुमार के साथ हुई मारपीट, पुलिस द्वारा अधिवक्ताओं से अभद्र व्यवहार करने व बेवजह उन्हें हवालात में बंद करने के विरोध में डीएम से मुलाकात कर अपना विरोध जताया और इससे सबंधित एक ज्ञापन भी सौंपा। अधिवक्ताओं ने बताया कि १४ मई को अधिवक्ता जितेन्द्र कुमार अपने घर के निकट बन रहे नाले का काम देखने गए थे।
जहां रोहित, मोहित, पप्पू, नौशाद ने उनके साथ मारपीट की, जिससे उन्हें काफी चोटें आई। घायल अधिवक्ता को लेकर उनके साथी मुकदमा दर्ज कराने लोनी थाने पहुंचे, जहां अन्य वकील भी पहुंच गए। अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि थाने में मौजूद एसआई भानुप्रताप उस समय शराब के नशे में थे।
उन्होंने अधिवक्ताओं के साथ मारपीट शुरू कर दी और दो अधिवक्तओं को जबरदस्ती हवालात में बंद कर दिया। मामले की जानकारी थाना प्रभारी को दी गई, तो उन्होंने भी वकीलों के साथ अभद्र व्यवहार किया। अधिवक्ताओं ने डीएम से मुलाकात कर इस मामले में थाना प्रभारी, एसआई के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई करने की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में अध्यक्ष जेपी शर्मा, सचिव मौ. यूनुस, मनोज कुमार त्यागी, अनिल कर्दम, कपिल कुमार, मनोज कुमार डागर आदि अधिवक्ता शामिल रहे।