नोएडा (युग करवट)। उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी के ऊपर एक अधिकारी की पूर्व पत्नी को देर रात को फोन करके परेशान करने के मामले में नया मोड़ आ गया है। पीडि़ता ने इस मामले की जांच कर रही पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला को एक शपथ पत्र दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि उनके पिता द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से पूर्व अधिकारी बी आर मीणा के ऊपर लगाए गए आरोप बेबुनियाद है।
इस बाबत पूछने पर पुलिस उपायुक्त वृंदा शुक्ला ने बताया कि पीडि़ता ने एक शपथ पत्र उन्हें दिया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि उनके पिता द्वारा लगाया गया आरोप निराधार हैं। उन्होंने बताया कि चुकी मामला एक वरिष्ठ अधिकारी से जुड़ा हुआ है, तथा महिला से संबंधित है, अत: वह महिला से एक बार पुन: व्यक्तिगत रूप से बात करेंगी। इसके बाद ही वह अपनी रिपोर्ट शासन को भेजेंगी।