लाइनपार क्षेत्र में विरोध पर कहा इलेक्शन आते ही विरोध होता है
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। प्रदेश के स्वास्थ्य राज्यमंत्री व गाजियाबाद शहर विधायक अतुल गर्ग ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लोगों के फोन नहीं उठाने के आरोप सही नहीं है। उस समय उन्हें पूरे प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई थी। वे लखनऊ में थे और पांच लोगों की टीम के साथ पूरे प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर नजर बनाए हुए थे। इस दौरान गाजियाबाद से जो भी फोन आए, उन्होंने सभी अटैंड किए। हो सकता है एकाध कॉल्स का जवाब नहीं दे पाया हो। लेकिन उनके फोन चौबीसों घंटे खुले रहते थे और आने वाली कॉल्स का बाद में भी जवाब दिया गया। राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने कहा कि पूर्व मेयर तेलूराम कांबोज की बेटी की मौत बेहद अफसोसजनक है लेकिन उन्होंने उनकी हर संभव मदद की। इस घटना के बाद परिवार के सदस्यों से उनकी कई बार बात हुई। किसी ने फोन नहीं उठाने या इलाज नहीं मिलने की शिकायत नहीं की। अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में विधानसभा क्षेत्र में किए गए कार्यों का ब्यौरा देते हुए अतुल गर्ग ने कहा कि इन साढ़े चार साल में लाइनपार क्षेत्र में पानी की समस्या दूर की गई। इस दौरान निगम के माध्यम से 64 करोड़ के कार्य कराए गए। 47 करोड़ के कार्य अभी प्रस्तावित है। विधायक निधि से करीब नौ करोड़ 22 लाख रुपए के कार्य कराए गए। अभी भी एक करोड़ 62 लाख रुपए के कार्य प्रस्तावित है।
उन्होंने कहा कि धोबीघाट आरोबी का 95 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। कांट्रैक्टर बालकिशन शर्मा के निधन की वजह से बाकी का काम पूरा होने में समय लग रहा है। डूंडाहेड़ा में पचास बेड के अस्पताल का प्रस्ताव पास हो गया है। बजट बन चुका है। जल्द ही काम शुरू हो जाएगा। एमएमजी अस्पताल में दो ऑक्सीजन प्लांट लगाए गए है। प्रताप विहार बिजली घर में 250 केवीए का सब स्टेशन बनाया गया है। राष्टï्रीय राजमार्ग का चौड़ीकरण किया गया है।
उन्होंने कहा कि बहुत सारे कार्यों के सांसद और अन्य विभागों के माध्यम से भी कराया गया है। सजवान नगर में साढ़े तीन करोड़ में बिजली का कार्य कराया गया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के 27000 लाभार्थियों को लाभ दिया गया।
अतुल गर्ग ने कहा कि राशन विभाग के मंत्री रहते हुए उन्होंने बड़े पैमाने पर अपात्रों के राशन कार्ड निरस्त कराए। सिर्फ कविनगर में ही तीस हजार राशन कार्ड निरस्त किए गए जो पात्र ही नहीं थे। इस दौरान सौ दुकानें कैंसिल की गई। पूरे प्रदेश में करीब पचास लाख अपात्रों के राशन कार्डों निरस्त कर पात्रों को दिया गया। उन्होंने कहा कि लाइनपार क्षेत्र में गंगाजल की सप्लाई को लेकर जल्द ही नोएडा से बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस दौरान वे खेल का मैदान और एक डिग्री कॉलेज बनवाना चाहते थे लेेकिन इसके लिए समय नहीं मिल पाया।
लाइनपार क्षेत्र में विरोध के सवाल पर उन्हेंने कहा कि चुनाव आते ही विरोध के स्वर आने लगते हैं। यह विरोध कौन कर रहा है, क्यों कर रहा है, इसका पता लगाना चाहिए तो इसके पीछे कारण निकल जाएंगे। उन्होंने कहा कि विरोध तो योगी आदित्यनाथ का भी होता है। जो काम करेगा, उसी की चर्चा होती है।
सेवानगर में पानी की पाइप लाइन बिछ जाने के तीन साल बाद भी सप्लाई नहीं होने के सवाल पर अतुल गर्ग ने कहा कि कल ही वे मौके पर जाकर पता लगाएंगे और जल्द सप्लाई शुरू कराएंगे।
गाजियाबाद की सड़कों में गड्ढों के सवाल पर उन्होंने कहा कि पिछले पचास साल में इतनी बारिश पहले नहीं हुई बारिश के कारण सड़कें खराब हुई हैं, जिन्हें ठीक कराने का काम चल रहा है। एमएमजी को लेकर एक सवाल में उन्होंने कहा कि अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग की जगह नई बिल्डिंग बनाने का प्रस्ताव है, जिसे जल्द ही पास किया जाएगा। प्रेसवार्ता के दौरान भाजपा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष मानसिंह गोस्वामी, मंत्री प्रतिनिधि राजेंद्र मेंदीवाले, उदित मोहन और मीडिया प्रभारी नीरज गोयल भी उपस्थित थे।