गाजियाबाद। गाजियाबाद संसदीय सीट से भाजपा की ओर से राष्टï्रीय महासचिव अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाए जाने की सभी अटकलें आज खत्म हो गई। भाजपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने आज अरुण सिंह को लोकसभा चुनाव में आंध्र प्रदेश का प्रभारी नियुक्त किया है। इसी के साथ अरुण सिंह को लोकसभा उम्मीदवाद बनाए जाने की सभी संभावनाएं खत्म हो गई है। इसी के साथ केंद्रीय मंत्री और मौजूदा सांसद जनरल वी के सिंह को टिकट मिलने का रास्ता साफ हो गया है। बताया जाता है कि भाजपा कोर कमेटी की बैठक में गाजियाबाद सीट से जनरल वी के सिंह के नाम पर मुहर लगा दी गई। इसकी औपचारिक घोषणा तीसरी लिस्ट में की जाएगी। भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की तीसरी बैठक शुक्रवार शाम को केंद्रीय कार्यालय पर होनी है।

यह बैठक 18 मार्च होनी थी लेकिन महाराष्टï्र में गठबंधन के बीच टिकट बंटवारे को लेकर पेंच फंसने के कारण बैठक अब शुक्रवार को होगी। गाजियाबाद सीट से जनरल वी के सिंह के अलावा राष्टï्रीय महासचिव अरुण सिंह, राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल और अनिल जैन का नाम चल रहा था। इनमें से अरुण सिंह को प्रबल दावेदार माना जा रहा था, लेकिन अब अरुण सिंह को आंध्र प्रदेश लोकसभा चुनाव प्रभारी बनाए जाने के बाद जनरल वी के सिंह को ही टिकट मिलना लगभग तय हो गया है। टिकट मिलने का संकेत मिलने के बाद ही जनरल वी के सिंह की ओर से रविवार को होली मिलन कार्यक्रम रखा गया है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा ने आज तीन राज्यों के लोकसभा चुनाव प्रभारियों की नियुक्ति की। पार्टी महासचिव अरुण सिंह को आंध्र प्रदेश का प्रभारी बनाया गया। उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री सिद्घार्थनाथ सिंह को आंध्र प्रदेश लोकसभा चुनाव का सह प्रभारी बनाया गया। गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश में विधान सभा चुनाव भी हो रहा है।
भाजपा राष्टï्रीय अध्यक्ष जे पी नडडा ने राजस्थान में लोकसभा प्रभारी के तौर पर पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. विनय सहस्त्रबुद्घे को प्रभारी, राष्टï्रीय मंत्री विजया रहाटकर और पूर्व सांसद प्रवेश वर्मा को सह प्रभारी नियुक्त किया है। इसी तरत राजस्थान के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया को हरियाणा में लोकसभा चुनाव प्रभारी और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर को हरियाणा लोकसभा चुनाव में सह प्रभारी नियुक्त किया है।