गाजियाबाद (युग करवट)। सेना की अग्निपथ भर्ती योजना के चल रहे विरोध प्रदर्शन के चलते शहर में चलने वाली ई-बस संचालन में दस बसों की कटौती की गई है। ई-डिपो की ओर से जिन चार रूटों पर ई-बसें संचालित हो रही है। आंदोनल समाप्त होने के बाद फिर से इन बसों को रूट पर उतारा जाएगा। शहर के चार रूटों पर ई-बसों का संचालन होता है। इन सभी रूटों पर तीस बसें संचालित हो रही है। इन बसों को प्रशासन ने शहर के चार रूटों पर उतारा हुआ है। इनमें कौशांबी से मुरादनगर, पुराना बस अड्डा से लोनी, पुराना बस अड्डा से दिल्ली भजनपुरा और दिलशाद गार्डन से डासना मसूरी रूट शामिल है।

इन सभी रूटों पर वैसे अभी आंदोलन का असर नहीं है। मगर इन रूटों पर भी अब एतिहातन सतर्कता बरती जा रही है। ताकी गुस्साएं युवाओं की ई-बसें भेंट नहीं चढ़ सके। दरअसल यह सभी बसें प्राइवेट है। पीएमआई कंपनी की ओर से इन बसों की सर्विस गाजियाबाद में दी जा रही है।
यह सभी बसें पीएमआई कंपनी द्वारा सप्लाई की गई है। कंपनी को डर सता रहा है कि कहीं अग्निपथ के विरोध में लगे युवा ई-बसों को नुकसान नहीं पहुंचा दे। ऐसे में चार रूटों से दस ई-बसों की कटौती कर दी गई है। एक अधिकारी ने बताया कि आंदोलन के शांत होने के बाद पूरी ई-बसों को रूट पर उतारा जाएगा।