गाजियाबाद (युग करवट)। बीती रात अज्ञात कारणों के चलते लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र के अंतर्गत बेहटा हाजीपुर संगम पार्क में नहर के निकट स्थित एक डेयरी में अचानक भयंकर आग लग गई। आग की विकरालता और नुकसान का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि इस अग्निकांड के दौरान डेयरी में बंधे आधा दर्जन से अधिक पशु जलकर मर गए। साथ ही वहां पर सोए डेयरी मालिक सतवीर सिंह निवासी ढिकौली बागपत की भी आग की चपेट में आकर दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस की माने तो लगभग सवा दस बजे के आस-पास लगी इस आग की सूचना पुलिस व फायर ब्रिगेड को काफी देर बाद मिली। फायर ब्रिगेड जब तक आग पर काबू कर पाती और पुलिस रेस्क्यू शुरू करती पाती तब तक आग पूरी तरह से तबाही मचा चुकी थी। आग कैसे लगी और इसमे कितने जान-माल की हानि हुई इस बाबत एसीपी लोनी रजनीश उपाध्याय का कहना था कि इसका पता तो जांच के दौरान ही मिल पायेगा। श्री उपाध्याय ने बताया कि प्राथमिक जांच के दौरान जो बात सामने आई है उससे पता चला है कि इस अग्निकांड के दौरान सात-आठ पशु और वहां पर सो रहे डेयरी मालिक की मौत हो गई। इस अग्निकांड की सूचना के बाद घटनास्थल पर कमिश्नरेट व प्रशासन के आला अफसर भी पहुंच गये।