गाजियाबाद (युग करवट)। स्वच्छ सर्वेक्षण की टीम अगले महीने गाजियाबाद सिटी का दौरा करेगी। सबसे पहले ओडीएफ प्लस का जायजा लेगी और इसके बाद दूसरे कंपोनेंट पर कार्य करेगी। स्वच्छ सर्वेक्षण-2023 का आगाज हो चुका है। इसके लिए नगर निगम प्रशासन भी अब तैयारी में जुट गया है। वैसे गाजियाबाद को शहर में स्वच्छता के लिए 122 करोड़ रुपये एसबीएम के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार की ओर से आवंटित किया गया है। माना जा रहा है कि यह पैसा वर्ष 2022 के स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए दिया गया है। स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 को लेकर अब नगर निगम भी तैयारी तेजी के साथ कर रहा है। नगर निगम के हेल्थ विभाग का कहना है कि इस बार करीब दो हजार अंक अधिक का कॉम्पीटीशन होगा। सबसे पहले स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए 6000 अंक का हुआ था। पिछली बार गाजियाबाद नगर निगम में स्वच्छ सर्वेक्षण 7500 और अब स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 करीब 9500 अंक का होने जा रहा है। इसके लिए नगर निगम प्रशासन को भी केंद्र सरकार ने अवगत करा दिया है। स्वच्छ सर्वेक्षण को लेकर अब नगर निगम ने भी तैयारी तेज कर दी है। नगर निगम के हेल्थ विभाग का दावा है कि अगले महीने से गाजियाबाद में स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए टीम आएगी।